मंदिरों में देववृक्ष लगाने से मिलेगा पुण्य: डॉ सोनी।

 


मंदिरों में देववृक्ष लगाने से मिलेगा पुण्य: डॉ सोनी।


मंदिरों में देववृक्ष लगाने से मिलेगा पुण्य: डॉ सोनी।



टिहरी: आईएनटी ग्रुप उत्तराखंड के तत्वावधान में कटुकीचैल मॉ सुरकण्डा मंदिर परिसर में पर्यावरणविद वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी के नेतृत्व में देववृक्ष रुद्राक्ष, बरगद व विभिन्न प्रकार के फूलों, फलदार पोलम, आंवला व तेजपाल के पौधों का रोपण किया गया।
पर्यावरणविद वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी ने कहाकि सबसे बड़ा भगवान प्रकृति हैं प्रकृति मैही सभी देवस्थल व तीर्थधाम हैं प्रकृति को दूषित करना मतलब अपने देवी देवताओं को नाराज करना है इसलिए हमें प्रकृति को शुद्ध बनाना होगा।


प्रकृति शुद्ध तो भगवान भी खुश होंगे। देवस्थलों में देववृक्षो के रोपण से खुशाली आएगी वही पशुबलि पर भी रोक लगेगी।  पौधारोपण में बीरपाल सिंह कठैत, गंभीर सिंह, विजेंद्र सिंह, चमन सिंह, आनंद सिंह, आनोद सिंह, विकास सिंह, शरदचंद्रबडोनी, राजेंद्र सिंह रावत, अंजना गैरोला, तेजी महर, हेमा रावत व मॉ सुरकण्डा जन सेवा समिति घेना के सदस्य सम्मलित हुए।


 



Popular posts from this blog

"मिलकर लड़ेंगे जंग"

भूकंप के हल्के झटके :जानें

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है