दून में बरसे बादल, उत्तरकाशी में हुआ भूस्खलन

                                                                                                                                     


दून में बरसे बादल, उत्तरकाशी में हुआ भूस्खलन



(फ़ोटो-1: देहरादून में बारिश का दृश्य)


सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो 


देहरादून। गुरुवार को कई इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। मौसम केंद्र की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार राजधानी दून समेत गढ़वाल और कुमाऊं मंडल के कई इलाकों में बारिश होने का अनुमान है। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि दिन में दो से तीन दौर की बारिश हो सकती है। कुछ क्षेत्रों में गरज और चमक के साथ तेज बौछारें पड़ने का अनुमान है।
उत्तरकाशी चंबा मार्ग पर नौगांव बैरियर के पास आज भूस्खलन हो गया। सूचना पाकर उत्तरकाशी जिलाधिकारी मौके पर पहुंचे। एसडीआरएफ पुलिस राहत और बचाव कार्य में लगी है। मलबे में कुछ मजदूरों के दबे होने की आंशका है।
लेकिन विभाग के अलर्ट के बीच सुबह से देहरादून सहित अन्य इलाकों में मौसम साफ रहा। हालांकि दोपहर तीन बजे बाद देहरादून में झमाझम बारिश शुरू हो गई। जिससे शहर में कई जगह सड़कें तालाब बन गईं।         


(फ़ोटो-2 : उत्तरकाशी मेंभूस्खलन का दृश्य)


उत्तरकाशी, यमुनोत्री और बदरीनाथ धाम में तड़के बारिश हुई। वहीं रुद्रप्रयाग से केदारनाथ तक हल्के बादल छाये रहे। केदारनाथ, बदरीनाथ, गंगोत्री और गंगोत्री राजमार्ग पर आवाजाही सुचारू है।
देहरादून के राजपुर रोड पर बुधवार की शाम तेज बारिश से लोग डर गए। सड़कों पर पानी का बहाव इतना तेज था कि कई बाइक्स बहकर काफी आगे तक चली गई। पुलिस की बेरिकेडिंग भी पानी के दबाव में हट गई।
राजधानी और आसपास के इलाकों में बुधवार रात काफी देर तक झमाझम बारिश हुई। इसके चलते लोगों को गर्मी और उमस से खासी राहत मिली। वहीं, तेज बारिश से कई इलाकों में जलभराव भी हुआ, जिससे लोगों को दिक्कत हुई। सुबह से राजधानी के ज्यादातर इलाकों में तेज धूप खिली रही। दोपहर के समय कुछ देर के लिए आसमान काले बादलों से घिर गया और हवाएं चलने लगी।
हालांकि कुछ ही देर में मौसम फिर साफ हो गया और धूप खिलने लगी। शाम के समय काफी देर तक ठंडी हवाएं चलती रही। रात को कई इलाकों में बहुत तेज बारिश शुरू हो गई जो काफी देर तक जारी रही। तेज बारिश के बाद राजधानी के अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री की कमी दर्ज की गई। इससे रात के समय मौसम काफी सुहावना हो गया।
राजधानी में अधिकतम तापमान 29 और न्यूनतम तापमान 24 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। तेज बारिश के चलते शहर की ज्यादातर सड़कों पर पानी भर गया। कुछ गलियों और मोहल्लों में भी पानी भरने से लोगों को दिक्कत हुई। हालांकि कुछ समय बाद बारिश रुकने से लोगों को राहत मिली।


 


Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

भगत सिंह कालोनी और कारगीग्रान्ट में जमात से लौटे 5 लोगों को कोरोना

शिक्षकों द्वारा सामुदायिक निगरानी का कार्य प्रारम्भ ।