घटना में आठ लोगों के लापता होने की आशंका


अनियंत्रित होकर यमुना में समाई यूटिलिटी, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी



(फोटो-5: घटनास्थल पर रेस्क्यू ऑपरेशन)


सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो उत्तराखण्ड न्यूज 


देहरादून। उत्तराखंड में सड़क हादसों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। आये दिन पहाड़ों पर वाहन दुर्घटनाओं की खबरें प्रकाश में आती रहती हैं। इसी क्रम मर बीती रात विकासनगर बाजार से लाखामंडल के लावड़ी गांव जाती यूटिलिटी हथियारी डैम के पास अनियंत्रित होकर  यमुना में गिर गयी। 


घटना में आठ लोग लापता होने की आशंका पर मंगलवार को एसडीआरएफ व पुलिस ने रेस्क्यू अभियान चलाकर यमुना से तीन शव निकाले। अभी एसडीआरएफ का सर्च अभियान जारी है। घटनास्थल पर ग्रामीणों की भारी भीड़ लगी रही। ग्रामीण यमुना में डूबकर लापता लोगों को तलाशने में एसडीआरएफ की मदद कर रहे हैं।


जानकारी के मुताबिक, विकासनगर बाजार से सामान लेकर जौनसार के सुदूरवर्ती लाखामंडल क्षेत्र के लावड़ी गांव जा रही यूटिलिटी विकासनगर-बाड़वाला-जुड्डो मार्ग पर हथियारी डैम के पास अनियंत्रित होकर करीब 300 मीटर नीचे यमुना नदी में समा गई। इस दौरान चालक लावड़ी निवासी प्रवेश पंवार वाहन से बीच में ही छिटक कर गंभीर रूप से घायल हो गया। 


उसे नजदीकी राजकीय अस्पताल सीएचसी विकासनगर पहुंचाया गया, जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद हालत नाजुक होने पर उसे हायर सेंटर देहरादून के लिए रेफर कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल से तीन मोबाइल फोन व अन्य सामान बरामद किया है। 


पुलिस क्षेत्राधिकारी विकास नगर भूपेंद्र सिंह धोनी ने लापता चार लोगों की पुष्टि की है, जबकि घटनास्थल पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शी वाहन में नौ लोगों के सवार होने की बात कह रहे हैं। धोनी ने बताया कि अंधेरा होने की वजह से पुलिस-प्रशासन व एसडीआरएफ टीम को सर्च अभियान में सफलता नहीं मिल सकी।


मंगलवार सुबह एसडीआरएफ व कोतवाली पुलिस ने रेस्क्यू शुरू किया। यमुना का बहाव तेज होने के बाद रेस्क्यू चलाने में दिक्कत आ रही है। टीम अभी तक लाखीराम (28) पुत्र रुडिया निवासी बणगांव कैंपटी, साइना (32 वर्ष) पत्नी गेंदा निवासी घण्ता तहसील चकराता, विक्की (22 वर्ष) पुत्र जगालू निवासी लावड़ी लाखामंडल के शव बरामद कर चुकी है। बाकी शवों को निकालने के लिए रेस्क्यू जारी है।


 


Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

भगत सिंह कालोनी और कारगीग्रान्ट में जमात से लौटे 5 लोगों को कोरोना

शिक्षकों द्वारा सामुदायिक निगरानी का कार्य प्रारम्भ ।