चांद पर जाने वाले :जानें


चांद पर जाने वाले अंतरिक्षयात्रियों के लिए नासा ने दो  तरह के सूट के डिज़ाइन तैयार किए



एजेंसी


चांद पर जाने वाले अंतरिक्षयात्रियों के लिए अमरीकी स्पेस एजेंसी नासा ने दो नए तरह के सूट के डिज़ाइन तैयार किए हैं एजेंसी के आर्माटिस कार्यक्रम के तहत बने इन नए सूट के डिज़ाइन को नासा प्रमुख जिम ब्रिडेनस्टाइन ने बुधवार को दुनिया के सामने रखा.पहले सूट का नाम है एक्सईएमयू, जो फिलहाल अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन पर पहने जाने वाले सूट के समान है. नासा का कहना है कि चांद पर चलने के लिए ये बेहतर है और इसका फिट भी पहले से अच्छा है l


इसके साथ ही एक नारंगी रंग के सूट का मॉडल भी है जिसे ओरायन क्रू सर्वाइवल सिस्टम कहा जा रहा है. हेलमेट के साथ बना ये सूट अंतरिक्षयात्री उस वक्त पहन सकते हैं जब ओरायन अंतरिक्षयान धरती से बाहर छोड़ा जाएगा और फिर वो वापस धरती में प्रवेश करेगा.इसे चांद पर जाने के साथ-साथ दूसरे ग्रहों पर जाते वक्त भी पहना जा सकता है l


एक्सप्लोरेशन एक्स्ट्रीवेहिकुलर मोबिलिटी यूनिट यानी एक्सईएमयू सूट अंतरिक्षयात्री के शरीर के आकार के अनुसार ढल जाता है.इसी साल मार्च में महिला अंतरिक्षयात्रियों का एक दल अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन जाने वाला था. इस योजना को उस वक्त रोक दिया गया जब इन महिला अंतरिक्षयात्रियों के शरीर के आकार के अनुसार उन्हें ठीक फिट होने वाले सूट की व्यवस्था नहीं की जा सकी.स्पेसक्राफ्ट इंजीनियर ऐमी रॉस का कहना है कि इन नए सूटों में अंतरिक्षयात्री पहले से बेहतर तरीके से हाथों और कलाई का इस्तेमाल कर पाएंगे वो सिर के ऊपर तक अपना हाथ घुमा सकेंगे l


इसके साथ ही इन नए सूटों को कमर और घुटनों से पास अधिक फ्लेक्सिबन बनाया गया है ताकि ज़रूरत पड़ने पर अंतरिक्षयात्री झुककर कोई पत्थर भी उठा सके.स्पेसक्राफ्ट इंजीनियर क्रिस्टीन डेविस के अनुसार पुराने सूटों के मुक़ाबले चांद के शोध में इससे काफी मदद मिलेगी l ऐमी रॉस का कहना है कि ये सूट इतना मज़बूत है कि चांद पर उड़ने वाली लूनर डस्ट से इसे कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा l


इन सूटों को भीतर ऑक्सीजन की सप्लाई को भी बेहतर बनाया गया है l इसे पहनने वाले अंतरिक्षयात्री बिना चिंता लगतार आठ घंटे काम कर सकता है, आपात स्थिती के लिए एक और घंटे के लिए ऑक्सीजन की व्यवस्था भी सूट में हैओरायन क्रू सर्वाइवल सिस्टम पहन कर दिखाने वाले जॉनसन स्पेस सेंटर के डस्टिन गोमर्ट कहते हैं, "ये सूट आपको सुरक्षित घर पहुंचाने के लिए बना है. ये पहन कर आप आसानी से काम कर सकते हैं, बैठ भी सकते हैं l "ये सूट वैक्यूम में अंतरिक्षयान के भीतर बदलते हवा के दबाव को झेलने में पूरी तरह सक्षम है l डस्टिन कहते हैं, "ये सूट कम से कम छह दिनों तक अंतरिक्ष में बदलते दबाव में सुरक्षित रहने के लिए बनाया गया है l


____________________________________________________________________________________



Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

ताजा हरा धनिया तथा अजवाइन केे गर्म पानी से कई हेल्थ प्रॉब्लम्स दूर  l

उत्तराखण्ड से कोरोना अपडेट, रात आठ बजे का हेल्थ बुलेटिन