राज्य आपदा प्रबंधन के संबंध में बैठक


 राज्य आपदा प्रबंधन आइटीबीपी, बीएसएफ, केंद्रीय तथा राज्य के विभिन्न विभागों ने प्रतिभाग किया 


आपदा प्रबंधन के संबंध में ऋषिकेश एम्स सभागार में बैठक आयोजित की गई।



सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो 


देहरादून l दिनांक 18 अक्टूबर 2019, निदेशक एम्स प्रोफेसर रविकांत और आईआरएस विशेषज्ञ राज्य आपदा प्रबंधन बीबी गणनायक की संयुक्त अध्यक्षता में सेना, आइटीबीपी, बीएसएफ, केंद्रीय तथा राज्य के विभिन्न विभागों और एजेंसियों सहित एम्स के प्रशासन के साथ आपदा प्रबंधन के संबंध में समन्वय बैठक ऋषिकेश एम्स सभागार में आयोजित की गई।
बैठक में बीबी गणनायक द्वारा प्रेजेंटेशन के माध्यम से विभिन्न प्रकार की प्राकृतिक आपदा से संभावित क्षति और उस स्थिति में एम्स द्वारा घायलों को त्वरित सभी प्रकार की आपातकालीन चिकित्सा सुविधा देने की क्षमता को पूछा। साथ ही उन्होंने अन्य सभी विभागों को अपने-अपने स्तर पर तथा संयुक्त रूप से सक्रिय भूमिका निभाते हुए प्रभावी और स्मार्ट तरीके से आपदा की स्थिति में लोगों की बेसिक आवश्यकता पूरी करने का प्लान जानना चाहा।


इस दौरान उपस्थित विभिन्न विभागों और एजेंसियों के प्रतिनिधियों ने बहुत से महत्वपूर्ण सुझाव सामने रखें। सभी के सुझाव में सामने आया कि सभी विभागों के नोडल व लाईजन अधिकारियों कि पूर्व में ही जिम्मेदारी तय हो, सभी को अपनी-अपनी जिम्मेदारी की ठीक से समझ हो, विभिन्न माध्यमों से सभी का आपसी समन्वय अच्छा हो, पहले से ही लोकेशन पर हो, सभी पहले से ही अपने-अपने संसाधन चेक कर लें और यदि कमी हो तो समय रहते उन्हें पूरा किया जाए, इत्यादि सुझाव साझा किए। सभी ने कहा कि सभी एक आईआरएस सिस्टम के तहत काम करें तो गोल्डन आवर का सही उपयोग करते हुए अधिक से अधिक लोगों का जीवन बचाया जा सकता है।



इस दौरान एम्स प्रशासन ने अपने संसाधनों से अवगत कराया साथ ही सामने आने वाली व्यावहारिक समस्याओं तथा संसाधनों की कमी इत्यादि से उपस्थित सदस्यों को अवगत कराया। बैठक के पश्चात सभी अधिकारियों के द्वारा एम्स की ओपीडी आपातकालीन सेवाएं और ट्रामा सेंटर पर उपस्थित सभी प्रकार की चिकित्सा सुविधाओं के साथ-साथ सुरक्षा की दृष्टि से भी अब्जर्वेशन किया गया। इस दौरान विभिन्न विभागों ने अपने-अपने स्तर पर निरीक्षण के दौरान जो कमियां पाई उसे दूसरे सेशन की बैठक में सभी से साझा किया। दूसरे सेशन की बैठक में विभिन्न विभागों द्वारा निरीक्षण के दौरान पाई गई कमियों को एम्स प्रशासन से समय रहते दुरुस्त करने की बात कही गई, जिस पर एम्स प्रशासन ने आगामी बैठक से पूर्व सभी उजागर बातों पर कार्य करने का आश्वासन दिया। बैठक में यह भी तय किया गया कि आगे एक स्टेट लेवल की बड़ी माॅक एक्सरसाइज आयोजित की जाएगी, जिससे पूर्व समस्त मेडिकल संस्थानों, विभागों की जनपद आईआरएस की टीमों तथा स्टेट आईआरएस की अलग-अलग तथा संयुक्त बैठक आयोजित की जाएगी और माॅक एक्सरसाइज से पूर्व तैयारी कर ली जाएगी।
इस अवसर पर बैठक में कमांडर सब एरिया आर्मी एम.एस काला, कमांडेंट आइटीबीपी सीमाद्वार 23 बटालियन ए.के गुप्ता, डीन एम्स डाॅ मनोज गुप्ता, एचओडी ट्रामा सेंटर ऋषिकेश एम्स प्रोफेसर कुंवर आजम, एसडीएम हरिद्वार एन बंसल, डिप्टी कमांडेंट बीएसएफ अजय भट्ट सहित पुलिस, सूचना, स्वास्थ्य एसडीआरएफ, फायर पुलिस सहित एम्स और संबंधित विभाग के नोडल और प्रतिनिधि अधिकारी उपस्थित थे।


Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

भगत सिंह कालोनी और कारगीग्रान्ट में जमात से लौटे 5 लोगों को कोरोना

शिक्षकों द्वारा सामुदायिक निगरानी का कार्य प्रारम्भ ।