स्वदेशी रायफल

स्वदेशी रायफल


आर्म्स मैनुफैक्चरिंग कंपनी ने देश की पहली स्वदेशी रायफल का प्रोटोटाइप बनाया 



सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो 


बेंगलुरु। कर्नाटक में एक आर्म्स मैनुफैक्चरिंग कंपनी ने देश की पहली स्वदेशी रायफल का प्रोटोटाइप बना लिया है। राजधानी बेंगलुरु स्थित कंपनी एसएसएस डिफेंस ने इन्हें बनाया है। कंपनी ने दो स्नाइपर रायफल्स डेवलप की हैं। इस शुरुआत से भारत के आर्म्स मैनुफैक्चरिंग और एक्सपोर्टर हब बनने की उम्मीद की जा रही है।  


देश की पहली स्वदेशी रायफल्स बनाने वाली कंपनी एसएसएस डिफेंस के मैनेजिंग डायरेक्टर सतीश आर मचानी ने कहा कि हमने डिफेंस सेक्टर में कइन इंडिया आने के बाद इन रायफल्स को डिजाइन और डेवलप करना शुरू किया। हम उन चुनिंदा मैनुफैक्चरिंग कंपनियों में से एक हैं जिन्हें देश में हथियार बनाने की इजाजत मिली।  


 बता दें 61 साल पुरानी यह कंपनी पहले ऑटोमोटिव इंडस्ट्री के लिए कम्पोनेंट्स मैनुफैक्चर किया करती थी। मचानी ने बताया कि हम लोग डिफेंस सेक्टर के लिए कम्पोनेंट्स सप्लाई कर चुके हैं। हमारा विचार अपने सुरक्षा बलों के लिए एक पूरा आर्म्स सिस्टम डेवलप करने का है और आर्म्स एक्सपोर्टर बनने की उम्मीद है। अंतरराष्ट्रीय स्तर के हथियार बनाने के लिए हमें और काम करने की जरूरत है।


स्वदेशी तकनीक से तैयार की गई इन रायफल्स के बारे में कंपनी के सीईओ विवेक कृष्ण ने बताया कि हमने 7.62x51mm और .338 लपुआ मैगनम प्लैटफॉर्म्स वाली हाई-एंड स्नाइपर रायफल्स तैयार की हैं। कंपनी अपनी मैनुफैक्चिंग यूनिट के लिए राज्य के जिगानी में 80,000 स्क्वेयर फीट में फैक्ट्री बनवा रही है।


Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

भगत सिंह कालोनी और कारगीग्रान्ट में जमात से लौटे 5 लोगों को कोरोना

शिक्षकों द्वारा सामुदायिक निगरानी का कार्य प्रारम्भ ।