देहरादून नगर निगम में अब वाहन पार्किंग के लिए शुल्क देना होगा।

नगर निगम ने  अपने परिसर में ट्रायल पार्किंग शुरू की 



देहरादून । निगम परिसर में अब पार्किंग के लिए शुल्क देना होगा। गुरुवार से नगर निगम ने अपने परिसर में ट्रायल पार्किंग शुरू कर दी है। नगर आयुक्त विनय शंकर पांडेय ने यह जानकारी देते हुए बताया कि पूरा दिन नगर निगम परिसर में निगम से जुड़े वाहन कम बल्कि बाहरी लोगों के वाहन खड़े रहते हैं। इसमें दून अस्पताल और बाजार में खरीददारी करने आने वालों के वाहन बड़ी संख्या में शामिल हैं। इससे निगम परिसर की पार्किंग में अव्यवस्था बनी रहती है। नगर आयुक्त ने बताया कि अभी ट्रायल पर शुल्क पार्किंग शुरू की गई है। एक माह बाद सकारात्मक परिणाम आने पर इसके टेंडर किए जाएंगे।


शुल्क पार्किंग तय करने के बाद निगम ने अपने परिसर में बकायदा इसके बोर्ड चस्पा कर दिए हैं। दरअसल, निगम परिसर में पूरा दिन तकरीबन 150 कारें और 400 से 500 दुपहिया खड़े होते हैं। इससे परिसर में जाम लगा रहता है और महापौर व नगर आयुक्त समेत अधिकारियों के वाहनों को निकलने में दिक्कतें होती हैं। वाहनों के बेतरतीब ढंग से खड़े रहने के कारण निगम की जेसीबी और ट्रक समेत ट्रैक्टर आदि को निकलने में भी दिक्कतें होती हैं। कई दफा निगम के ट्रकों से पार्किंग में खड़ी गाड़ियों को साइड लगने के कारण विवाद भी होते रहते हैं। 


निगम प्रशासन ने कुछ समय पूर्व बैरियर लगाकर भी बाहरी वाहनों को रोकने की कोशिश की थी, लेकिन यह संभव नहीं हो पाया। इससे आजिज आकर अब नगर निगम प्रशासन ने अपने परिसर में शुल्क पार्किंग शुरू कर दी है। नगर आयुक्त पांडेय ने बताया कि अभी एक माह के लिए एक ठेकेदार को पार्किंग ट्रायल पर दी गई है। अगर इसे अच्छी आय हुई तो इसे आगे टेंडर कर ठेके पर दिया जा सकेगा। इससे अनवांछित वाहनों पर रोक भी लगेग। नगर आयुक्त। ने बताया कि इन दरों में दुपहिया के लिए पहले एक घंटे तक 15 रुपये, एक से तीन घंटे के 30 रुपये व इसके बाद अधिकतम 50 रुपये शुल्क तय किया गया है। चौपहिया के लिए पहले घंटे के 30 रुपये, एक से तीन घंटे के लिए 50 और उसके बाद 100 रुपये लिए जाएंगे।


Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

ताजा हरा धनिया तथा अजवाइन केे गर्म पानी से कई हेल्थ प्रॉब्लम्स दूर  l

राष्ट्रीय वन शहीद दिवस मनाया गया