पुलिस की पकड़ में आये बुजुर्गो के साथ ठगी करने वाले


मेरठ से प्रत्येक शनिवार देहरादून आकर ठगी की घटनाओं को अंजाम देते थे 



(फोटो :-प्रतिआत्मक चित्र)


 


सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो 


देहरादून l दून में बुजुर्गो के साथ हुई दो ठगी के मामलों का खुलासा करते हुए पुलिस ने एक शातिर किस्म के ठग को ठगी गयी ज्वैलरी व घटना में प्रयुक्त स्कूटी सहित गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी का एक साथी फरार है जिसकी तलाश में दबिश दी जा रही है l


एस.पी.सिटी श्वेता चैबे ने बताया कि 3 नवम्बर को एक वृद्ध महिला माया सिंह निवासी बसंत विहार द्वारा चैकी इंद्रानगर में सूचना देकर बताया गया कि स्कूटी सवार दो अज्ञात ठगों द्वारा सुविधा मार्केट के समीप उन्हे बातों में उलझा कर दो सोने की चूड़िया ठग ली गयी है।


इसी प्रकार 11 नवम्बर को एक वरिष्ठ नागरिक जे.पी. जैन द्वारा भी चैकी इंद्रानगर को सूचित कर बताया गया कि दो युवकों द्वारा उन्हे बातों में उलझा कर उनसे सोने की अंगूठी ठग ली गयी। जिसके बाद वह फरार हो गये है। मामले की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस ने जब ठगों की तलाश शुरू की तो पता चला कि आरोपी ठग मेरठ के रहने वाले हैं तथा वह प्रत्येक शनिवार को दून आकर ठगी की घटनाओं को अंजाम दे रहेे है।


ठगों का पता चलते ही पुलिस ने मेरठ जाकर एक सूचना के आधार पर ठगी के मुख्य आरोपी मो.वसीम पुत्र इस्माइल को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के कब्जे से पुलिस ने  सोने के दोनों कंगन, अंगूठी व घटना में प्रयुक्त स्कूटी भी बरामद की है। आरोपी का एक साथी  मो. अमान पुत्र सलाउद्दीन फरार है जिसकी तलाश में दबिश दी जा रही है। आरोपी मो. वसीम ने पूछताछ में बताया कि दिल्ली में रहने के दौरान उसने बुर्जूगों से ठगी की कई घटनाएं सुनी थी जिस पर उसने इसी तर्ज पर देहरादून को चुना और अपने साथी सहित दून में वारदातों को अंजाम देने लगा था।


Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

भगत सिंह कालोनी और कारगीग्रान्ट में जमात से लौटे 5 लोगों को कोरोना

शिक्षकों द्वारा सामुदायिक निगरानी का कार्य प्रारम्भ ।