आंगनबाड़ी कार्यकत्रीयों की मांग, सम्मानजनक मानदेय मीले ।


आंगनबाड़ी कार्यकत्रीयों की मांग, सम्मानजनक मानदेय मीले ।


कोटद्वार। आंगनबाड़ी कार्यकत्री, मिनी कार्यकत्री, सेविका संगठन ने मानदेय अठारह हजार रुपये किए जाने सहित विभिन्न मांगों को लेकर बुधवार को भी तहसील परिसर में धरना दिया। साथ ही प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि उन्हें सम्मानजनक मानदेय दिया जाना चाहिए। इस दौरान संगठन ने सरकार से मानदेय अठारह हजार रुपये किए जाने या मजदूरी के दायरे में लाते हुए प्रतिदिन 500 रुपये की दर से 15 हजार रुपये किए जाने की मांग की।बुधवार को तहसील परिसर में धरना देते हुए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने कहा कि पिछले कई वर्षों से आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां मानदेय बढ़ोत्तरी की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैए लेकिन उनकी मांगों को अनदेखा किया जा रहा है। आज के दौर में आंगनबाड़ी के ऊपर कई जिम्मेदारियां है। उनसे कुपोषण, पोषण अभियान, टीकाकरण, वजन मातृत्व वन्दना योना, नन्दा गौरा कन्या धन योजना, पिछड़ी जाति गणना, बीएलओ, पल्स पोलियो, राशन कार्ड सर्वे, स्वजल योजना, जनगणना का काम कराया जा रहा है। वर्तमान में स्मार्टफोन से भी काम कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अधिकांश आंगबाड़ी कार्यकत्रियां विधवा परित्यकता तलाकशुदा है जो अपने घर परिवार के पालन.पोषण की एकमात्र सहारा है। आज की मंहगाई के दौर में हमारा मानदेय नगण्य है। जिस कारण उन्हें भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। धरना देने वालों में दुगड्डा ब्लॉक अध्यक्ष सुनीता देवी बसन्ती रावत सुनीता देवी प्रभा जोशी रेखा बिष्ट ऊषा गोस्वामी अम्बिका वीना माय देवी बबीता जयश्री मुन्नी रावत सुषमा इन्दू अंजू सहित सैकड़ों आंगनबाड़ी कार्यकर्ता शामिल थे।


--------------------------------------------------------------------------



 


 


Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

भगत सिंह कालोनी और कारगीग्रान्ट में जमात से लौटे 5 लोगों को कोरोना

शिक्षकों द्वारा सामुदायिक निगरानी का कार्य प्रारम्भ ।