जिलाधिकारी की अनोखी पहल :जानें

जिलाधिकारी की अनोखी पहल पर 1100 छात्राओ द्वारा नैनी झील में नौकायन का आनन्द लिया। 



सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो


नैनीताल । 17 फरवरी 2020 (सूचना) - जिलाधिकारी श्री सविन बंसल की पहल पर सरोवर नगरी में पहली बार शहर के विभिन्न स्कूल की लभग 1100 छात्राओ द्वारा नैनी झील में नौकायन का आनन्द लिया। जिलाधिकारी की इस पहल का नगरवासियों व विद्यालयों द्वारा सराहना की गई, वहीं बालिकाओं के चेहरे पर आत्मविश्वास एवं खुशी के भाव देखे गये। सोमवार की सुबह शहर के दर्जनो भर स्कूल की छात्राओं ने बेटी बचाओं - बेटी पढाओं स्लोगनों के साथ जागरूकता रैली निकली जो कि शहर के विभिन्न मार्गो से फ्लैट्स मैदान पहुंची जिस पर जिलाधिकारी ने उनका स्वागत भी किया।



इसके उपरान्त सभी छात्राओ द्वारा नयना देवी तथा बोट हाउस क्लब स्टैण्ड से नौकायन का लुफ्त उठाया। उधर नयना देवी बोट स्टैण्ड से जिलाधिकारी द्वारा नौकायन का शुभांरभ किया। जिलाधिकरी के कार्यक्रम के शुभांरभ के नैनी झील में बालिकाओं को लिये बेटी बचाओं - बेटी पढाओं स्लोगनों एवं रंगविरंगे गुब्बारों से सजी 213 नावें झील के पटल पर उतर आयी। यहां तक कि बहुत सी बालिकाओं ने स्वंय नाव की पतवार थाम कर नाव चलाई। बच्चियाॅ इतनी प्रसन्न थी कि उन्होने का थैक-यू डीम अंकल। 
बोट हाउस क्लब में आयोजित बेटी बचाओ बेटी पढाओं कार्यक्रम में सम्बोधित करते हुयें जिलाधिकारी श्री बंसल ने कहा कि बेटी एवं बेटे में कोई फर्क नहीं है, आज बेटियॉ अपनी मेहनत से कई उच्च पदों एवं सभी क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा से ऊंचाईयों को छूते हुए अपने माता-पिता, देश एवं प्रदेश का नाम रोशन कर रही है। उन्होने कहा समाज के विभिन्न वर्गों में बेटियों के संबंध में सोच में भी सकारात्मक बदलाव हुआ है, आज सभी परिवार बेटियों को भी बेटों के समान ही जीवन में आगे बढने के समान अवसर प्रदान कर रहे हैं। श्री बंसल ने कहा कि माता-पिता अपनी बेटियों को अच्छी शिक्षा-दीक्षा एवं उचित मार्गदर्शन दे रहे है, हमें ऐसे माता-पिता से प्रेरणा लेने की आवश्यकता है। उन्होंने बालिकाओ से अपील की कि वे जीवन में जो भी मुकाम हासिल करना चाहती हैं उसके लिए कड़ी मेहनत करें,कडी मेहनत एंव परिश्रम से ही लक्ष्य को हासिल किया जा सकता हैं। 



जिलाधिकारी ने कहा सेवाओं का चुनाव करना बालिकाओं का काम है, उनका मार्गदर्शन करना हमारा दायित्व है। उन्होने कहा विद्यार्थी जीवन व सेवाकाल में अनेक चुनौतियां व कठिनाई आती हंै लेकिन उनका आत्मविश्वास व धैर्य के साथ सामना करते हुये आगे बढे तभी मुकाम हासिल होता है। उन्होने कहा कि जीवन में नैतिक मूल्य अति आवश्यक हैं। नैतिक मूल्यों का हमें अनुपालन करना चाहिए ताकि अच्छे समाज का निर्माण हो सके। उन्होने बालिकाओं से कहा कि उनकी जो भी समस्यायेें, जिज्ञासायें होंगी उनका निवारण के लिए हम सदैव तत्पर हैं। उन्होने कहा कि जीवन के प्रत्येक क्षेत्र मे सफलता प्राप्त करने के लिए सही समय पर सही मार्गदर्शन एवं निर्णय लेना अति आवश्यक हैै। उन्होंने सभी बालिकाओं से कहा कि वे अपनी-अपनी अभिरूचि के अनुसार ही कार्य क्षेत्र का चुनाव करें ताकि उस क्षेत्र में समाज को सबसे अच्छी सेवा प्रदान कर सकें।
बालिकाओं को तुलिका जोशी ने बालिका पोषण, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट ने बेटी बचाओं- बेटी पढाओं, प्रोवेशन अधिकारी व्योमा जैन ने महिला कल्याण योजनाओं, महिला हैल्पलाइन की विस़्तृत जानकारियां दी। कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, जिला विकास अधिकारी रमा गोस्वामी, उप शिक्षा अधिकारी सुलोचना पाण्डे ने भी बालिकाओं को सम्बोधित किया। कार्यक्रम में जीजीआईसी, एशडेल, मोहन लाल साह बालिका विद्यालय, भारतीय शहीद सैनिक स्कूल, कन्या जूनियर हाई स्कूल, विशप स्कूल, डीएसबी, नेवल विंग सहित लगभग 1100 बालिकायें मौजूद थी। संचालन एआरटीओ विमल पाण्डे द्वारा किया गया। 
 कार्यक्रम में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार मीणा, कमांडेन्ट एनसीसी डी. के.सिंह,उपजिलाधिकारी विनोद कुमार, मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता, जिला शिक्षा अधिकारी एचएल गौतम, कुलसचिव कु.वि.वि.डा. महेश कुमार, जिला पूर्ति अधिकारी मनोज वर्मन, समाज कल्याण अधिकारी अमन अनिरूद्ध, सहित अनेक अधिकारी व विभिन्न स्कूल की शिक्षकायें मौजूद थी। 


Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

ताजा हरा धनिया तथा अजवाइन केे गर्म पानी से कई हेल्थ प्रॉब्लम्स दूर  l

उत्तराखण्ड से कोरोना अपडेट, रात आठ बजे का हेल्थ बुलेटिन