जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में कोरोना वायरस रोकथाम के लिए हुई बैठक

कोरोना वायरस-19 को लेकर हुई बैठक



सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो


देहरादून । जिला कार्यालय सभागार में जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में कोरोना वायरस-19 के रोकथाम तथा इससे बचाव को लेकर जिला प्रशासन एवं चिकित्सा विभाग द्वारा संयुक्त बैठक सम्पन्न हुई। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने चिकित्सा विभाग को आवश्यक हिदायत दी कि कोरोना का वायरस से संक्रमित व्यक्ति को आयशोलेशन वार्ड एवं प्रशिक्षित चिकित्सकों के माध्यम से ईलाज कर सुविधा दी जाय। उन्होंने कहा कोरोना वायरस को लेकर फैलाई जा रही अफवाहों पर अंकुश लगाने के साथ ही इसके बचाव के उपकरणों यथा मास्क, सैनिटाइजर, पीपीई किट, ट्रिपल लेयर मास्क, टामी फ्लू ड्रग की कालाबाजारी पर रोक लगाने के लिए ड्रग्स इंस्पेक्टर चिकित्सा एवं पुलिस व खाद्य अभिहित अधिकारियों के माध्यम से छापेमारी करें तथा दोषी पाये जाने वाले कैमिस्ट एवं ड्रगिस्ट के खिलाफ आवश्यक कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। 


उन्होंने कहा कि कोराना वायरस के संवेदनशील प्रकरणों पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा ही शासकीय बुलेटिन जारी किया जायेगा साथ ही उन्होंने मीडिया से भी अपील की हे कि किसी प्रकार की कोराना वायरस सम्बन्धी सूचना जनता तक पंहुचाने से पूर्व जिला प्रशासन से पूरी जानकारी प्राप्त कर लें तभी उसका प्रसारण करना सुनिश्चित करें ताकि जनमानस में कोरोना वायरस का भय व्याप्त न हो। उन्होंने कोरोना वायरस से बचाव के लिए चिकित्सा विभाग को माईक साउण्ड, पम्पलेट आदि से प्रचारित करने के निर्देश दिये। उन्होंने पुलिस विभाग को कोरोना वायरस के सम्बन्ध में अफवाह फैलाने वालों के विरूद्ध विधिक कार्यवाही करने के भी निर्देश दिये।


बैठक में जिलाधिकारी ने एम्स ऋषिकेश एवं दून अस्पताल द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के सम्बन्ध में की गई कार्यवाही पर नाराजगी जताई तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी को तत्काल इनसे कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए जांच हेतु टीम गठित करने के निर्देश दिये।  उन्होंने चिकित्सा से जुड़े चिकित्सकों एवं अन्य उपस्थित अधिकारियों को हिदायत दी कि कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु अपने क्षेत्रों में लोगों को जागरूक करें। उन्होंने चिकत्सिा विभाग के अधिकारियों एवं अन्य चिकित्सीय संस्थानों से जुडे़ अधिकारियों से कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की गाईडलाइन के अनुसार दवाओं का क्रय कर संक्रमित को देने की बात कही। इस अवसर पर उपस्थित चिकित्सा से जुड़े संस्थानों के चिकित्सकों की विभिन्न शंकाओं का समाधान किया गया। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ मीनाक्षी जोशी, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ एम के त्यागी, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डाॅ उत्तम सिंह चैहान, जिला मलेरिया अधिकारी डाॅ सुभाष जोशी, पुलिस क्षेत्राधिकारी लोकजीत, जिला विकास अधिकारी प्रदीप पाण्डेय, जिला पंचायतराज अधिकारी एम.जफर खान समेत एम्स ऋषिकेश, दून मेडिकल, हिमालयन मेडिकल संस्थानों के अधिकारी उपस्थित रहे।  


Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

ताजा हरा धनिया तथा अजवाइन केे गर्म पानी से कई हेल्थ प्रॉब्लम्स दूर  l

राष्ट्रीय वन शहीद दिवस मनाया गया