बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य एवं पोषण को राशन सामग्री आंगनवाड़ी केन्द्रों तक पहुँचेगी ।

बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य एवं पोषण केे लिए राशन सामग्री आंगनवाड़ी केन्द्रों तक पहुँचेगी ।


वायरस संक्रमण के दृष्टिगत आंगनबाड़ी केन्द्रों के बन्द हो जाने के कारण 6 माह से 06 वर्ष तक के बच्चों एवं गर्भवती एवं धात्री महिलाओं को विभाग द्वारा राशन वितरण किया जाना सम्भव नही हो पा रहा है।



सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो


देहरादून ।  वायरस संक्रमण के दृष्टिगत आंगनबाड़ी केन्द्रों के बन्द हो जाने के कारण 6 माह से 06 वर्ष तक के बच्चों एवं गर्भवती एवं धात्री महिलाओं को विभाग द्वारा राशन वितरण किया जाना सम्भव नही हो पा रहा है। 6 माह से 06 वर्ष तक के बच्चों, गर्भवती एवं धात्री महिलाओं के स्वास्थ्य एवं पोषण को दृष्टिगत रखते हुए सचिव महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग उत्तराखण्ड शासन द्वारा उक्त लाभार्थियों को टेक होम राशन सामग्री आंगनवाड़ी केन्द्रों तक पंहुचाने हेतु जनपद में  चयनित महिला स्वंय सहायता समूहों के माध्यम से आंगनबाड़ी केन्द्रों तक पंहुचाने का निर्णय लिया गया है। उक्त के क्रम में जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने अवगत कराया है कि स्वयं सहायता समूह तथा उनके द्वारा टेक होम राशन सामग्री क्रय करने हेतु मण्डी तथा आंगनबाड़ी केन्द्रों तक पहुंचाने हेतु उपयोग में लाए जाए गये वाहनों को आवागमन की सुविधा प्रदान की गयी है।
जिलाधिकारी ने बाल विकास परियोजना अधिकारी देहरादून को निर्देशित किया है कि वे आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों को निर्देशित करें कि टेक होम राशन का वितरण लाभार्थियों के घर-घर जाकर लाॅक डाउन के निर्देशों, साफ-सफाई एवं सामाजिक दूरी के मानकों का अनिवार्य रूप से पालन करते हुए करना सुनिश्चित करें। साथ ही जिलाधिकारी ने समस्त चयनित महिला स्वंय सहायता समूह, को को निर्देशित किया कि वे टेक होम राशन सामग्री क्रय करते समय, ढूलान एवं पैकिंग कराते समय एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों पर वितरण के समय लाॅकडाउन के निर्देशों, साफ-सफाई एवं सामाजिक दूरी के मानकों का अनिवार्य रूप से पालन करना सुनिश्चित करेगें।  


Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

ताजा हरा धनिया तथा अजवाइन केे गर्म पानी से कई हेल्थ प्रॉब्लम्स दूर  l

उत्तराखण्ड से कोरोना अपडेट, रात आठ बजे का हेल्थ बुलेटिन