फोन से लोगों को जागरुक कर रहे हैं, वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी

फोन से लोगों को जागरुक कर रहे हैं, वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी


लॉकडाउन में कोरोना महामारी से बचाव के लिए वृक्षमित्र कर रहे हैं फोन से लोगों को जागरुक।



सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो


देहरादून । प्राणी जीवन के सुरक्षा में 22 वर्षों से लगातार कार्य कर रहे पर्यावरणविद् वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी घर से लॉकडाउन में भी गांव के जन जन को कोरोना महामारी के बचाव के लिए दूरभाष सेउत्तराखंड के विभिन्न जनपदों से सम्पर्क कर लोगों को जागरुक व प्रेरित कर रहे हैं जहां लगातार छात्रछात्राओं के संपर्क में हैं वही गांव के लोगों को फोन कर कर के हाल जान रहे हैं। इस जन सम्पर्क अभियान के अंतर्गत उन्होंने टिहरी थौलधार के ग्राम पंचायत विकोल, कण्डार, पोखरी, जामणी के प्रधान गम्भीर सिंह पंवार, दीवान सिंह, बुद्धि पोखरियाल, पूरन सिंह महेर से कोरोना महामारी से गांव के लोगो का हाल जाना वही जनपद चमोली के ग्राम पंचायत पूर्णा, सुय्या, किरोली प्रधान मनोज कुमार, रेखा देवी, दिनेश लाल तथा सामाजिक कार्यकर्ता ब्लॉक वन सरपंच अध्यक्ष यशोदा बिष्ट, पर्यावरण प्रेमी बलवंत बिष्ट, गोविन्द राम सोनी, प्रदीप कुमार, हरीश चंद्र, आंगनबाड़ी कार्यकर्ती चौड़ चंद्रा देवी से सम्पर्क कर जन जन को कोरोना महामारी बचाव की जानकारी देकर जन जन की सुरक्षा करने की अपील की।
वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी का कहना है कि मानव जीवन का धरती में आने का असली महत्व तभी है जब हम दूसरों की सेवा, मद्दत करें। मौजूदा हालात में हमें कोरोना से बचने के लिए सामाजिक दूरी बनाने, मुह में मास्क लगाकर, समय समय पर हाथ धोने, एक दूसरे के संपर्क में न आने व गांव मोहल्ले में सेनेटाइज के छिड़काव से इस महामारी से छुटकारा पा सकते हैं ताकि जल्द से सामान्य जीवन हम लोगों का हो सके।


Popular posts from this blog

वायु मुद्रा शरीर के अंदर व्याप्त गैस,कब्ज अपच को दूर करता है 

भगत सिंह कालोनी और कारगीग्रान्ट में जमात से लौटे 5 लोगों को कोरोना

शिक्षकों द्वारा सामुदायिक निगरानी का कार्य प्रारम्भ ।